what is SEO meaning?.SEO Kaise Kare in Hindi 2021

what is seo meaning दोस्तों अगर आप एक ब्लॉगर हैं या ब्लॉगिंग करना चाहते हैं तो what is seo meaning के बारे में पता होना चाहिए। जब भी हम कोई query गूगल में सर्च करते हैं तो जो फर्स्ट पेज पर हमें  टॉप 10 रिजल्ट शो करता है क्यो हमारा आर्टिकल क्यों नहीं शो करता हैं।

ऐसा नहीं कि वह बहुत अच्छा कंटेंट लिखे होते हैं और उनका कंटेंट बहुत अच्छा होता है compression किसी और के। उनका आर्टिकल इसलिए first page में rank करता हैं ।what is seo meaning क्या होता हैं उनको पता होता है ? इसलिए वो  अपने आर्टिकल का seo बहुत ही अच्छी तरीके से किए रहते हैं।

तभी उनका आर्टिकल या website गूगल के first पेज में rank करता है। इसलिए सभी ब्लॉगर के लिए यह बहुत ही इंपॉर्टेंट होता हैं गूगल के पहले पेज में ब्लॉग को रैंक करना। आज हम इसी के बारे में बात करने हैं करने वाले हैं ।what is seo meaning 

इसे भी पढ़े – Ludo khelo paisa jeeto

कि seo क्या होता है?, और seo क्यों करते हैं?, seo क्यों जरूरी होता हैं? एक ब्लॉगर के लिए । अगर आप भी seo को सीखना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें ताकि आपको कोई प्रॉब्लम ना हो seo करते समय और अपने आर्टिकल को rank कराने में।what is seo meaning 

What is SEO meaning?


what is seo meaning में  सन 1991 में first टाइम seo लांच हुआ था बट उस समय बहुत कम लोगों तो पत था seo के बारे में । बट 1996 से seo का गेम स्टार्ट हुआ यहां से seo चालू हुआ जो अभी तक चल रहा हैं।

Search engine optimization वो टेक्निक हैं,या वो process  है। जिसके थ्रू आप search engine के ऑर्गेनिक रिजल्ट में अपने पेज या website को रैंक कराना चाहते हैं किसी specific keywords के ऊपर।इसी को हम सिंपल भाषा में seo का मीनिंग होता है। 

what is seo meaning
                 what is SEO meaning

 

Seo full form


Seo का फुल फॉर्म होता है ( Search engine optimization ) । Seo का काम होता है वेबसाइट को रैंक कराना google के first page में ताकि आपके website पर ज्यादा  से ज्यादा  ट्रैफिक आये । जितना ज्यादा आपके वेबसाइट पे traffic आएगा उतना ही आप पैसा कमा सकते हैं। 

SEO करना क्यों जरुरी होता है ?


what is seo meaning दोस्तों seo एक ब्लॉक के लिए इसलिए जरूरी होता है मान लीजिए आप ने कोई वेबसाइट बनाया । और उस पर आप बढ़िया बढ़िया  आर्टिकल पब्लिश कर दिए बट अगर आपका आर्टिकल या वेबसाइट गूगल में रैंक ना करे ।

और  आपका कोई आर्टिकल कोई पढ़े ही ना तो आपके वेबसाइट बनाने का कोई मतलब ही नहीं । क्योंकि अगर आपका कंटेंट लोगो को दीखेगा ही नहीं तो आपके आर्टिकल लिखने का क्या मतलब  इसलिए हर ब्लॉगर seo करता हैं  ।

इसे भी पढ़े – Blogging से पैसे कैसे कमाए 2020 A TO Z

अगर आप अपनी वेबसाइट का सही तरीके से seo करते हैं और आपका अर्टीकल गूगल के पहले पेज में शो करता है।और आपके website famous हो जाता हैं। इससे होगा क्या आपके वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा लोग विजिट करेंगे देखेंगे पड़ेंगे।

और आपके वेबसाइट पर ऑर्गेनिक ट्रैफिक ज्यादा से ज्यादा इंक्रीज होग। जिससे एक ब्लॉगर की earning जादा होंगी। क्योंकि एक blogger की earning टोटल ट्रैफिक पर depend करता हैं।इसलिए seo करना बहुत जरूरी होता हैं एक ब्लॉगर को।

Type of SEO


Seo दो प्रकार का होता है । On page seo और off page seo चलिए इसके बारे में हम विस्तार से जानते हैं एक-एक करके।

On-page SEO


On page seo में हम अपने ब्लॉक के अंदर एक article  लिखते समय जो भी एक्टिविटी करते हैं उसे हम on page seo कहते हैं। On page seo में बहुत कुछ आता है जैसे कि अपने वेबसाइट की स्पीड को बढ़ाना ।

ताकि जब भी कोई विजिटर हमारी वेबसाइट पर विजिट करें तो हमारा वेबसाइट जल्द से जल्द ओपन हो सके इसे होगा क्या कि हमारी website google में जल्दी से rank करेगी ।

इसे भी पढ़े –free professional website templates download.

कीवर्ड रिसर्च करना बहुत जरूरी होता है एक ब्लॉगर के लिए। किसी भी टाइप का अगर आप एक आर्टिकल लिखते हैं । और अगर आपका वह कीवर्ड सही नहीं होगा ।

तो आपका पोस्ट कभी भी रैंक नहीं करेगा । और आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक नहीं आएगा। और साथ में जो आपके कंटेंट का टाइटल होता है वो starting में long tail keyword रखना चाहिए आगर आप एक न्यू ब्लॉगर है तो।

साथ में आपका permalink जितना हो सके short होना चाहिए।और meta description मे आपको कुछ ऐसा दिखाना होता है जिससे कोई बिना पढ़े रह ना सके ।यह सब आपको सही से करना चाहिए ताकि आपका पोस्ट या आर्टिकल गूगल में जल्दी से रैंक करें।

और साथ में आपके आर्टिकल में internal linking और external लिंकिंग करना बहुत जरूरी होता हैं । इससे होता क्या हैं  कि आपका आर्टिकल को  गूगल आसानी से समझ जाता हैं। जिससे सर्च इंजन में रैंक होने आसानी होता हैं ।और साथ में हमारे website पर ऑर्गेनिक ट्रैफिक भी बढ़ जाता है।

1. User friendly website.

what is seo meaning  में दोस्तों सबसे पहले आपको अपने वेबसाइट को यूजर फ्रेंडली वेबसाइट बनाना होता है। इससे होगा क्या कि जब भी कोई विजिटर आपकी वेबसाइट पर आएगा तो उसको किसी भी चीज़ सीखने में या समझने में कोई प्रॉब्लम ना हो । वह आपके आर्टिकल को आसानी से पढ़ सके।

2. Keyword research.

कीवर्ड रिसर्च करना बहुत जरूरी होता है एक ब्लॉगर के लिए नए नए ब्लॉगर गलती क्या करते हैं वह किसी भी टॉपिक पर आर्टिकल लिखना चालू कर देते हो जिससे होता क्या है कि उनका आर्टिकल कभी भी रैंक नहीं करता है।

इसे भी पढ़े –google adsense approve kaise kare?

और कुछ दिन बाद बोलते है कि मेरा आर्टिकल रैंक नहीं कर रहा है । और ना ही कोई ट्रैफिक आ रहा हैं मेरे website पर। इसलिए आपको प्रॉपर कीवर्ड रिसर्च करना होता है। उसके बाद आपको आर्टिकल लिखाना होगा अगर आप ऐसा नहीं करते हैं। तो समझ जाइए आप सिर्फ टाइम west कर रहे है ब्लॉगिंग में।

3. Title tag.

दोस्तों आपको अपनी वेबसाइट का जो title tag होता है. उसको सही तरीके से बनाना होगा जब भी कोई विजिटर उस टाइटल को देखे उसे पढ़ने का मन जरूर करे और आपके title पर क्लिक करें । इसे होगा क्या कि आपका CTR इनक्रीस होगा CTR मेंटेन होगा टाइटल टैग में आपको 60 word का प्रयोग करना होगा उससे जादा नहीं।

4.Permalink

आप अपने पोस्ट का permalink हमेशा छोटा रखें और सिंपल रखें इसे होगा क्या गूगल को समझने में आसानी होगा ।इसलिए जब भी कोई आर्टिकल लिखे तो permalink को हमेशा छोटा रखें और सिंपल लिखें ताकि google को समझने में प्रॉबलम ना हों।

5. Meta description

Meta description में आपको मेन कीबोर्ड को जरूर रखना होता है ।और साथ में meta description को  आपको इस टाइप से लिखना है जब भी कोई विजिटर आपका meta description को देखे तो उसका एक बार पढ़ने का जरूर मन करें।

6. Image optimization

दोस्तों आपको अपने पोस्ट में ही image का इस्तेमाल जरूर करना होता है । इसे होता क्या हैं कि आपका ट्रैफिक इनक्रीस होता है। और आप जब भी इमेज को upload करे तो जितना हो सके उसका size कम हो।

क्योंकि अगर आपका इमेज का साइज कम होगा। तो आपके साइड की स्पीड लोड कम लगेगा ।और जब भी आप image optimization करे तो साथ में आपके ALT TYPE का जरूर यूज करें क्योंकि जो बहुत इंपॉर्टेंट होता है इमेज ऑप्टिमाइजेशन में ।

7. Internal linking

दोस्तों internal linking बहुत जरूरी होता है। किसी भी पोस्ट को रैंक करने के लिए इसे होता क्या है कि आपको अपने पोस्ट से रिलेटेड जो पेज होता है वह एक दूसरे के साथ internal link हो जाता है। इससे होगा क्या आप के website पर यूजर काफी टाइम तक रुक रहेगा ।

8. Cintant ,heading ,keyword

दोस्तों कंटेंट बहुत important होता है किसी भी आर्टिकल को लिखने के लिए ।और कहा भी जाता हैं कि कंटेन इज द किंग अगर आपका content अच्छा है और आप अच्छे से seo कर देते हैं।

तो maximum  चांस है कि आपका वेबसाइट या वो आर्टिकल जल्द से जल्द google में रैंक कर जाएगा । और आप जब भी कांटेक्ट लिखे तो कम से कम 1000 word का होना चाहिए । और वह भी यूनिक होना चाहिए ऐसा नहीं किसी और के ब्लॉक से आप कॉपी पेस्ट करके कांटेक्ट लिखें।

 Heading.

 what is seo meaning  अब जब भी आर्टिकल लिखे तो अपने हेडिंग का खास ध्यान रखें। कि कहां पर आपको H1 लगाना है कहां पर H2,H3 इन सब हेडिंग को याद रखे। और फोकस कीबोर्ड कहां पर रखना है यह सब बातों का जरूर ध्यान रखें seo करते समय।

 Keyword.

दोस्तों जब भी आप आर्टिकल लिखते हैं तो उसमें जो मेन keyword होता है तो उसका ध्यान रखें। अगर वह इंपॉर्टेंट कीबोर्ड है तो उसको  बोल्ड करके रखें ताकि visitor जब भी उसे देखें और उसे क्या आप क्या कहना चाहते हैं उसको समझने में प्रॉब्लम ना हो।

Off page seo


जब भी आप कोई आर्टिकल publish करते हैं तो उसके बाद का जो काम होता है ।उसे हम  Off page seo कहते हैं। आइए जानते हैं एक-एक करके विस्तार से ।

1 . Off page seo जैसे कि backlink बनाना इससे होता है क्या एक तो आपके साइट पर ट्रैफिक इनक्रीस होगा। और दूसरी बात आपके साइड का अथॉरिटी बढ़ेगा।

इसे भी पढ़े – google adsense approve kaise kare?

2 . backlink दो टाइप के होते हैं । dofollow backlink और no fallow backlink।आप जब भी कोई backlink बनाएं तो do fallow backlink और बनाएं किसी अच्छे वेबसाइट से backlink बनाए ।

ऐसा नहीं कि किसी भी वेबसाइट से आप backlink बना लिए वहां से आपको कोई ट्रैफिक ही ना आए तो उस backlink का कोई फायदा नही ।

Guest post करके  backlink बनाये ?


backlink बनाने का सबसे बढ़िया जो तरीका होता है वह होता gaust पोस्ट करके इसमें करना क्या होता है। आपको एक अच्छा सा आर्टिकल लिखना होता है और जहां से भी आप backlink बनाना चाहते हैं. उस वेबसाइट में जाकर आप उससे बात करके उस पोस्ट को आप पब्लिश कर सकते हैं .

और साथ में आप वहां पर अपनी वेबसाइट का लिंक छोड़ सकते हैं. इससे आपको दो चीज का फायदा होगा एक तो आपके साइड पर ट्रैफिक इनक्रीस होगा और दूसरी आपके साइड का da pa भी इनक्रीस होगा ।

1 . दोस्तों अगर आप चाहें तो आप किसी भी वेबसाइट पर जाकर आप कमेंट करके भी वहां पर अपना लिंक शेयर कर सकते हैं यह भी एक टाइप का ब्लैक लिंग हो जाता है।

2 . अपने आर्टिकल को गूगल सर्च कंसोल में summit करना होता हैं। अगर आप अपनें आर्टिकल को गूगल सर्च कंसोल में summit नहीं करेंगे तो आपका आर्टिकल गूगल में सो ही नहीं करेगा इसलिए जब भी आप कोई आर्टिकल लिखे तो एक बार url को search console  में जाकर जरूर सबमिट कर दें।

3. अगर आप चाहते हैं कि आपका जो आर्टिकल है वो गूगल के अलावा yahoo,bing, में भी शो करें । तो उसके लिए आप अपने आर्टिकल का url कॉपी करके Pango matric ,और pinglar जैसी एक वेबसाइट है। उस पर जाकर आप अपने url को summit कर दे। इससे होगा क्या कि आपका आर्टिकल bing, yahoo और google इन तीनों पर शो करेगा ।

4 . आप अपनी आर्टिकल को pinterest, facebook या instragram पर भी शेयर कर सकते हैं। इससे होगा क्या कि आपका आर्टिकल जल्दी से google में rank करेगा। और आपके वेबसाइट पर और आपका ट्रैफिक इनक्रीस होगा इसलिए जितना हो सके आप अपने आर्टिकल को सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें।

5 . अगर आप अपने आर्टिकल या वेबसाइट को प्रमोट कराना चाहते हैं तो आप पेट प्रमोशन का भी use कर सकते हैं ।इसमें बट आपको कुछ पैसे देने होते हैं जिससे आपका वेबसाइट या आर्टिकल गूगल में ऐड की तरह शो करता है जिससे आपके वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा ऑर्गेनिक ट्रैफिक इनक्रीस होता है ।

Review ऑफ this article.


what is seo meaning  दोस्तों आशा करता हूं कि यह आर्टिकल आपके लिए काफी हेल्पफुल होगा । अगर आप एक न्यू ब्लॉगर है या ब्लॉगिंग करना चाहते हैं । तो seo का बहुत इंपोर्टेंट होता है एक blogger के लिए ।

क्योंकिि हर कोई वेबसाइट बनाता है ताकि उसका आर्टिकल google के first page में रैंक करें। और ज्यदा से ज्यदा आपको orginic ट्रैफिक इनक्रीज हो सके है।

क्योंकि अगर आपने वेबसाइट पर ट्रैफिक अच्छा होगा तो आपका earning भी अच्छा होगा । अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा तो आप अपने फ्रेंड के साथ इसे शेयर जरूर करें । और हमें कमेंट करके बताए। मिलते हैं एक नये आर्टिकल के साथ धन्यवाद।।।।।।

 
 
 

What is SEO and how it works?

seo का मतलब होता हैं Search engine optimization वो टेक्निक हैं,या वो process  है। जिसके थ्रू आप search engine के ऑर्गेनिक रिजल्ट में अपने पेज या website को रैंक कराना चाहते हैं किसी specific keywords के ऊपर।इसी को हम सिंपल भाषा में seo का मीनिंग होता है। 

Which SEO tool is best?

गूगल के first पेज में रैंक करने internet पर बहुत सारे seo tool है जिसकी मदद से आप अपने पोस्ट को easy रैंक करा सकते हैं
best seo tool कुछ इस प्रकार हैं जैसे कि Ahrefs,google search console ,semrush ,KWF ,MOZ ,UBERSUGGEST answer the public

Spread the love